[BEST] Diwali Essay in Hindi For Child | दीवाली पर निबंध

 Diwali Essay in Hindi For Child:  नमस्कार दोस्तों आज हम दिवाली पर एक essay लिखने जा रहे हैं। आइए बिना समय बर्बाद किए दिवाली पर एक essay लिखें। दिवाली देश का सबसे बड़ा त्योहार है। दिवाली को देश में कुछ लोगों द्वारा दिवाली festival के रूप में भी जाना जाता है। दिवाली के त्योहार के दौरान हर तरफ खुशी का माहौल बना रहता है। दिवाली के त्योहार के दौरान लोग अपने घरों को अलग-अलग रंगों से sajate हैं। वो भी सामने रंग-बिरंगी रोशनी की वजह से। दिवाली पर बच्चे भी एक साथ बाहर जाते हैं और पटाखे चलाते or khelate हैं।

दिवाली न केवल देश के लिए बल्कि भारतीयों और भारत india से बाहर रहने वाले लोगों के लिए भी एक महत्वपूर्ण त्योहार होगा। भारत में दिवाली हमेशा धूमधाम से मनाई जाती है। स्कूलों और कॉलेजों में हमेशा दिवाली की छुट्टियां bahoot होती हैं।  साथ ही दिवाली के दौरान स्कूलों और कॉलेजों में बड़े पैमाने पर निबंध essay लेखन किया जाता है।

साथ ही कुछ स्थानों पर essay लेखन प्रतियोगिताएं बहुत बड़े पैमाने पर आयोजित की जाती हैं। कई छात्र इंटरनेट पर हमेशा दिवाली पर essay  खोजते रहते हैं। आज हम आपको दिवाली पर इस essay का एक बहुत ही विस्तृत इतिहास (history)  बताने जा रहे हैं।

हम अपने पाठकों के लिए दिवाली पर एक essay लेकर आए हैं। essay से Aap दीपावली की जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। वही आज हम आपके लिए लेकर आए हैं।  दीपावली ko आप क्या समझते हैं?  हम आज दीपावली पर essay की 10 line  भी देखेंगे।

diwali essay in hindi


Diwali Essay in Hindi For Child | दीपावली पर निबंध

आजकल दिवाली एक ऐसा त्योहार है जो सभी के लिए खुशियां लेकर Aata Hai। इस त्योहार का आनंद बड़ी संख्या में वयस्क Log भी लेते हैं। हर कोई Diwali त्योहार को बड़ी धूमधाम से मना रहा है। दिवाली Hamesha स्कूल, कॉलेज, ऑफिस आदि में बहुत बड़े त्योहार में मनाई जाती है। दिवाली साल के अक्टूबर Month या नवंबर के महीने में आती है।

 दिवाली आने पर लोग अपने घरों की सफाई भी कर रहे Hote हैं। Log नए कपड़े भी पहनते हैं। घर के सामने मीठी रोशनी जलाई जाती है। दिवाली के त्योहार के दौरान लक्ष्मी गणेश की पूजा Hoti हैं।

दिवाली हिंदू धर्म में एक बहुत ही प्रसिद्ध त्योहार है। साथ ही हिंदू धर्म के लोग दिवाली का बेसब्री से इंतजार कर रहे Hote हैं। Diwali त्योहार बच्चों से लेकर बड़ों तक सभी का सबसे महत्वपूर्ण और पसंदीदा त्योहार है। दिवाली भारत के साथ साथ भारत के सभी राज्यों में एक महत्वपूर्ण त्योहार है। Diwali पूरे देश में हर साल एक ही समय पर मनाया जाता है।

Diwali Ka Mahatva Kya Hai

Diwali रोशनी का त्योहार है। दीवाली हिंदू धर्म का एक प्राचीन त्योहार है। यह त्योहार हर साल कार्तिक महीने की अमावस्या के दिन मनाया जाता है। इस त्योहार से कई धार्मिक और पौराणिक और साथ ही ऐतिहासिक मान्यताएं जुड़ी हुई हैं।

 रावण पर राम की जीत और चौदह वर्ष का वनवास पूरा करने के बाद अयोध्या लौटने की खुशी में यह त्योहार बड़े पैमाने पर मनाया जाता है। हर साल इस दिन दीवाली की मान्यता के अनुसार हर घर में घी के दीपक जलाए जाते हैं। और Diwali ME  बहुत खुशी मनाई जाती है।

साथ ही, पौराणिक कथा के अनुसार कि समुद्रमंथन से यादव पर लक्ष्मी का जन्म हुआ था, देवराज इंद्र को दिए गए श्राप के कारण, लक्ष्मी को समुद्र में जाकर उनका सामना करना पड़ा था। इस प्रकार दिवाली का बहुत बड़ा महत्व है

Deepawali Kaise Manaye

दिवाली कार्तिक मास की अमावस्या को मनाया जाने वाला त्योहार है। इस त्योहार के दिन आपको अपने घर के आंगन में कई तरह की लाइटें लगानी चाहिए। Diwali सभी धर्मों के लोगों को मनानी चाहिए। दिवाली के त्योहार से पहले हमें घर को रंगना चाहिए साथ ही घर को भी सजाना चाहिए।

दीपावली के दिन आपको New कपड़े पहनने चाहिए। दिवाली के दिन हमें अपने घरों में बहुत ही Sweet मिठाइयां बनानी चाहिए। दिवाली के दिन मां लक्ष्मी की पूजा करनी चाहिए। हमें दीपावली के दिन हमेशा घर को देवी लक्ष्मी के स्वागत के लिए सजाना चाहिए।

दीपावली के दिन क्या करना चाहिए क्या नहीं करना चाहिए

 दोस्तों अब हम सीखेंगे कि दिवाली के दिन क्या करें और क्या न करें।

दीपावली के इस त्योहार में क्या करें?

1) दिवाली में सूर्योदय से पहले स्नान करना शुभ Hamesha माना जाता है।
2) दिवाली Ke Din पूजा के दौरान आपको अपने घर की पूरी तरह से सफाई करनी चाहिए।आपके घर को रंगोली से सजाया जाना चाहिए।
3) दिवाली Me पूजा के समय हमेशा दिवाली पूजा को शुभ बनाने के लिए गाय के घी का प्रयोग करें।
4) गणेश लक्ष्मी Ke पूजा के दौरान हमेशा लाल कपड़े पहनना शुभ माना जाता है।

दीपावली के इस त्यौहार में क्या न करें?

1) दीपावली Din के दौरान घर के प्रवेश द्वार के पास कहीं भी कूड़ा न डालें।
2) दिवाली के दिन चमड़े से बने वस्तुओं न दें।
3) Diwali पूजा में हमेशा सफेद फूलों का प्रयोग करें। Diwali हो सके तो हमेशा कमल के फूल का प्रयोग करना चाहिए।

Diwali Essay in Hindi for Class 2 

 रावण को हराने के बाद, भगवान राम 14 साल के वनवास के बाद अयोध्या में अपने राज्य लौट आए। इसी का नतीजा है कि भारत में लोग आज भी इस दिन को बड़े उत्साह के साथ Diwali मनाते हैं।

 भगवान राम की वापसी के दिन, अयोध्या के लोगों ने बड़े उत्साह के साथ अपने भगवान का स्वागत करने के लिए घर और सड़कों पर कुछ पटाखों में आग लगा दी। दीवाली एक पवित्र त्योहार है। जो हमेशा अच्छे के लिए जीत का प्रतीक Mana Jata Hai है।

Diwali Essay in Hindi 100 Words in Hindi | दिवाली का निबंध

दिवाली के पहले दिन को धनतेरस या धन त्रयोदशी के नाम से Bhi जाना जाता है। दिवाली के दिन मां लक्ष्मी की पूजा की जाती है। Diwali Ka यह पर्व मनाया जाता है। साथ ही देवी को प्रसन्न करने के लिए लोग आरती भक्त गीत और मंत्र गाते हैं। अगले दिन दीपावली का दूसरा दिन नरक चतुर्थी Hota Hai

Diwali Essay in Hindi For Child

Diwali Ke दिन को छोटी दिवाली के रूप में भी मनाया जाता है। दिवाली Me भाऊबिज के लिए बहुत बड़ा दिन है। Bhaubeej दिन को मनाने के लिए भाई-बहन एक साथ आते हैं। बहनें भी हमेशा अपने भाइयों को Bhaubeej दिन को मनाने के लिए आमंत्रित करती हैं।

दिवाली भारत और कई अन्य देशों में बड़े पैमाने पर मनाई जाती है। दिवाली को भारत में व्यापक रूप से एक त्योहार के रूप में मनाया जाता है। दिवाली भारत के प्रमुख त्योहारों में से एक है।

दिवाली भारत में बहुत ही हर्ष और उल्लास के साथ मनाया जाने वाला त्योहार है। कुछ जगहों पर कहा जाता है कि भगवान राम के आगमन की खुशी में Diwali त्योहार बड़े उत्साह के साथ मनाया जाता है। 

Diwali Essay in Hindi for Class 10 

तब से हर साल दिवाली को Khushi के रूप में मनाया जाने लगा। Diwali Ka पर्व बहुत ही हर्षोल्लास के साथ मनाया जाता है। कई कार्यालयों, स्कूलों, कॉलेजों और सरकारी कार्यालयों में भी दिवाली बड़े पैमाने पर मनाई जाती है। दिवाली हर साल अक्टूबर और नवंबर में मनाई जाती है। दिवाली से कुछ दिन पहले से ही लोग त्योहार की तैयारी शुरू कर देते हैं।

दिवाली के दिन लोग बड़ी संख्या में अपनी दुकानों, घरों और स्कूल कार्यालयों को सजाते हैं। दिवाली के इस दिन हर कोई नए कपड़े खरीद रहा Hota है. Diwali दिन Ke Pahale घर और दुकानों की भी अच्छी तरह से सफाई की जाती है। दीपावली की रात दीपक से पूरा भारत जगमगाता है। Diwali Ke Din पूरे भारत में रंग-बिरंगे दीये जलाए जाते हैं। 

Diwali Essay in Hindi 10 Lines With Points

1) दिवाली भारत में मनाया जाने वाला एक प्रमुख हिंदू त्योहार है।

2) भारत में दिवाली को रोशनी के त्योहार के रूप में भी मनाया जाता है।

3) दीवाली Esliye भी मनाई जाती है क्योंकि राम 14 साल के वनवास के बाद अयोध्या लौटे थे। इसी के चलते दीपावली बहुत बड़े पैमाने पर मनाई जाती है।

4) भगवान राम के अयोध्या लौटने के बाद इस Kushi में भी लोगों ने दिवाली मनानी शुरू कर दी।

5) दिवाली अक्टूबर या नवंबर के महीने में मनाई जाती है।

6) दिवाली के इस दिन पूरे भारत को बहुत ही बड़े पैमाने पर सजाया जाता है.

7) दिवाली के दिन बड़े पैमाने पर भगवान लक्ष्मी और गणेश की पूजा की जाती है।

8) दिवाली के दिन लोग सभी दुकानों, घरों, दफ्तरों में दीये जलाते हैं.



Diwali Essay in Hindi FAQ

 1) हम दीपावली कैसे मनाते हैं?

ANS : इस मुख्य दिन पर हम सभी लोग नए कपड़े पहनकर हमेशा माता लक्ष्मी जी, सरस्वती जी और गणेशजी की हमेशा पूजा की जाती है। दीपावली के दिन लोग देवी देवता की आराधना कर माता लक्ष्मी से हमेशा सदा घर मे रहने का निवेदन करते है।

 दीपावली के इस महान पूजा के बाद घरों और सड़कों पर दीपक और पटाखे जलाए जाते है हमेशा के लिए । दीपावली इस  त्यौहार का सबसे महत्वपूर्ण दिन भी यही है।

2) दिवाली का मतलब क्या होता है?

ANS : 'दिवाली' शब्द संस्कृत के दो शब्दों में से मिलकर हमेशा बना है और वो दीपावली के वो दो शब्द हैं 'दीप' अर्थात 'दीपक' ये अर्थ होता है।  और 'आवली' अर्थात 'लाइन' या 'श्रृंखला' जिसका दीपावली में मतलब हुआ 'दीपकों की श्रृंखला'।

 ... दीपावली का अर्थ 7 वीं शताब्दी के संस्कृत नाटक नागनंद में राजा हर्ष ने इसे हमेशा दीपप्रतिपादुत्सव: कहा है जिसमें हमेशा दिये जलाये जाते थे और हमारे आस पास के नव दुल्हन और दूल्हे को तोहफे दिए जाते थे।

Post a Comment

Previous Post Next Post