Mera Gaon Essay in Hindi | मेरा गांव पर निबंध (यादगार निबंध)

mera gaon essay in hindi  नमस्कार दोस्तों, आज हम अपने गांव पर एक essay देखने जा रहे हैं।  आपको अपना गांव बहुत याद आएगा। और आपको यह निबंध बहुत ही महत्वपूर्ण और निश्चित रूप से पसंद आएगा। निबंध Mera Gaon Essay in Hindi स्कूल-कॉलेज में व्यापक रूप से पूछा जाता है और यह निबंध आपके लिए कई बार पूछा गया है.  क्या आप किसी प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी कर रहे हैं। साथ ही अगर आप यूपीएससी परीक्षा की तैयारी कर रहे हैं तो यह आपके लिए बहुत जरूरी है।

Mera Gaon Essay in Hindi | मेरा गाँव पर निबंध 

 नमस्कार दोस्तों, मैं एक स्कूल में पढ़ रहा हूँ और मैं एक शहर के एक स्कूल में पढ़ रहा हूँ और जल्द ही मेरे स्कूल की छुट्टी होने वाली है। तो मेरा एक ही आकर्षण है कि मेरा गांव जाने के लिए इतना सुंदर है।

mera gaon

मेरे गांव का नाम रामपुर है पहाड़ की तलहटी में मेरा गांव बहुत खूबसूरत है। मेरे गाँव में मेरा एक छोटा सा घर है जहाँ मेरे दादा-दादी रहते हैं। जब मेरे स्कूल की छुट्टियां खत्म हो जाती हैं तो मैं हमेशा अपने गांव आता हूं।मेरे गांव की बात करें तो मेरे गांव में सभी लोगों के घर एक जैसे हैं।

मेरे गांव में शहर की तरह इमारतों के पहाड़ नहीं हैं लेकिन मेरे गांव में हरे भरे बगीचों के पहाड़ हैं। मेरे गाँव के बाहर एक छोटी सी नदी है, वह नदी बहुत सुन्दर है। नदी का पानी स्वच्छ और सुंदर है मेरे गांव में सभी लोग इस नदी में स्नान करने जाते हैं। और नदी में देखना बहुत मजेदार है।

गाँव में सबके पास खेत है इसलिए गाँव में बहुत सारे जानवर देखे जा सकते हैं। गाँवों में गाय, बैल, घोड़े, कुत्ते, बकरी और बिल्ली जैसे जानवर बहुत आम हैं।

 इस जगह पर दूध का स्वाद बहुत भारी होता है, जहां गांव जाने के बाद दूध की कमी नहीं होती है। और दूध आपकी सेहत के लिए बहुत ही पौष्टिक होता है।

गांव में कोई भी त्यौहार क्यों न हो, गांव के सभी लोग एक साथ आते हैं। और सभी लोगों के बीच कोई भी त्योहार मिठास के साथ मनाया जाता है। गांवों में जातिगत भेदभाव नहीं होता, लोग हमेशा एक-दूसरे के लिए तैयार रहते हैं।

 गांव के बच्चे भी बड़ी संख्या में खेल खेलते हैं। क्रिकेट इसमें एक बहुत ही महत्वपूर्ण खेल है। साथ ही नदी में तैरना भी एक बहुत ही महत्वपूर्ण खेल है। मुझे हमारा छोटा सा गाँव बहुत पसंद है जहाँ  खेलों में बहुत मज़ा आता है।

मेरा गांव मेरा गौरव पर निबंध (My Village Essay)

Mera Gaon Essay in Hindi

मेरा गाँव मेरा गौरव मैं महाराष्ट्र के एक गाँव का निवासी हूँ। मेरे गांव के आसपास का वातावरण मेरे चारों ओर की खुशी है वास्तव में मेरा गांव मेरा स्वाभिमान है। मेरे गांव के आसपास बहुत सारे पेड़ हैं। मेरा गांव पेड़ों के बीच बसा है। मेरा घर गांवों में कई तरह के घरों में से एक है।

मेरे गाँव में गाँव का पहला नागरिक सरपंच भी है जिसने गाँव के विकास में बहुत महत्वपूर्ण योगदान दिया है। मेरे गांव में गांव में अन्य जगहों पर जाने के लिए पक्की सड़कें हैं। अच्छी गुणवत्ता वाली बिजली और अच्छी गुणवत्ता वाला पानी भी बड़ी मात्रा में उपलब्ध कराया जाता है। मेरे गांव में 24 घंटे बिजली है।

मेरे गांव में घर-घर पानी उपलब्ध कराया जाता है। मेरे गांव में रहने वाले लोगों ने घर के बाहर बहुत बड़ी संख्या में पेड़ लगाए हैं। निश्चित रूप से मेरे गांवों के लोग हर साल यही पौधे लगाते हैं। पौधे आपके और आपके पर्यावरण के लिए बहुत महत्वपूर्ण हैं। मेरे गांव के लोग हमेशा एक दूसरे का सम्मान करते हैं। मेरे गांव के लोगों का भी आपस में बहुत विश्वास है।

मेरे गांव में जब कोई व्यक्ति मुसीबत में होता है तो सभी गांव वाले और गांव वाले एक दूसरे की मदद के लिए आगे आते हैं। मेरे गांव में हर कोई भाई की तरह व्यवहार करता है। गांव के लोग सच के रास्ते पर चलने वाले ईमानदार लोग हैं। मेरे गांव में कई तरह के पेड़ हैं। इसमें कई तरह के पौधों का बगीचा भी है।

मेरे गाँव में जब कोई मेहमान आता है तो गाँव वाले उसका बहुत बड़ी संख्या में अतिथि के रूप में स्वागत करते हैं। मेरे गाँव में एक स्कूल है और उसकी शिक्षा बहुत अच्छी है। मेरे गाँव में बहुत से विद्यार्थी बहुत अच्छे अंकों से उत्तीर्ण हुए हैं। मेरे गांव के स्कूल में पढ़ने वाले छात्र जिले में नंबर वन बन रहे हैं। वास्तव में मेरे गांव में इतनी सुविधाएं हैं कि मुझे अपने गांव पर बहुत गर्व है।

आदर्श गांव पर निबंध (Mera Gaon Par Nibandh)

महात्मा गांधी ने कहा था कि भारत गांवों का देश है। इसलिए यदि भारत को एक आदर्श भारत बनना है तो हमें पहले गांवों को आदर्श बनाना होगा। आज हम यह जानने जा रहे हैं कि किस सन्दर्भ से आदर्श ग्राम का निर्माण किया जा सकता है।
Mera Gaon Par Nibandh

प्यार और भाईचारा

एक आदर्श गांव वह जगह है जहां लोग हमेशा नशे से मुक्त रहते हैं। विवाद हमेशा दुश्मनी और मुकदमेबाजी से दूर रहते हैं। एकता और सहयोग की भावना रखने वाले गांव। साथ ही आपसी प्रेम और भाईचारे वाला गांव आदर्श हो सकता है। ऐसा आदर्श गांव छोटा हो सकता है लेकिन यह गांव स्वर्ग जैसा हो सकता है।

व्यसन से मुक्ति

बुरी आदतें इंसान के लिए हमेशा खराब होती हैं। शराब, जुआ, बीड़ी, सिगरेट आदि बहुत बुरी आदतें हैं। ऐसी आदत के कारण भारत में लोगों की गरीबी बढ़ती जा रही है। नशे के कारण कुछ लोगों के घर भी बिक गए हैं।

गांव के लोग मेहनती, वफादार और संतुष्ट हैं। जो लोग पैसे का बुद्धिमानी से उपयोग कर रहे हैं। गांवों में जहां लोग नशे से पूरी तरह मुक्त हैं। ऐसे गांवों की पहचान आदर्श गांवों के रूप में की जा सकती है।

शिक्षा और स्वास्थ्य

गाँव के सभी लोग जो आदर्श गाँव होते हैं वे हमेशा शिक्षित होते हैं। भारत की प्रगति में शिक्षित लोगों का योगदान बहुत बड़ा है। आज के समय में केवल शिक्षित लोग ही ज्ञान और विज्ञान से लाभान्वित हो सकते हैं।

आजकल एक शिक्षित किसान वैज्ञानिक तरीके से खेती कर सकता है। इसलिए आदर्श गांवों में न्यूनतम माध्यमिक शिक्षा की व्यवस्था होनी चाहिए। लोगों के ज्ञान को बढ़ाने के लिए गांवों में सार्वजनिक पुस्तकालय होने चाहिए।

इलाज की सुविधा के लिए गांव में एक अच्छा अस्पताल होना चाहिए। गांव के विकास के लिए गांव में ग्रामीणों को शुद्ध पेयजल उपलब्ध कराना बेहद जरूरी है।

 गांव के विकास के लिए बिजली की व्यवस्था जरूरी है। जान-माल की सुरक्षा के लिए गांवों में पुलिस चौकी होनी चाहिए। इसी तरह गांव से शहर तक पक्की सड़क होनी चाहिए। गांवों में आंतरिक सड़कों को भी पक्का किया जाना चाहिए।

ग्राम परिसर

आदर्श गांव एक ऐसा गांव कहा जाता है जहां बच्चों के खेलने के लिए बहुत बड़ा खेल का मैदान है। गांव के चारों ओर हरे-भरे बगीचे भी होंगे। इससे गांव की शोभा भी बढ़ती है। ऐसा होता है एक आदर्श गांव, एक आदर्श गांव हमेशा सभी को प्रिय होता है।

अगर आपको भी अपना गांव पसंद है तो हमें कमेंट बॉक्स में बताएं कि आपको अपना गांव क्यों पसंद है।

Mera Gaon Essay in Hindi FAQ

1) गांव में सबसे अच्छी चीज क्या है
ANS: गांव में ताजी हवा, अच्छे पेड़, नदी, ताजा खाना सबसे अलग चीज है।
2) क्या गांव में विकास की जरूरत है
ANS: हां। गांवों का विकास बहुत बड़ा है

इसे भी जरूर पढ़ें

Post a Comment

Previous Post Next Post