[श्रेष्ठ] Essay On My Favourite Bird Peacock in Hindi

 नमस्कार दोस्तों, आज हम Essay On My Favourite Bird Peacock in Hindi  निबंध के बारे में हिंदी में चर्चा करने जा रहे हैं। दोस्तों आज हम भारत के राष्ट्रीय पक्षी मोर के बारे में और जानने जा रहे हैं। दोस्तों अगर आप स्कूल या कॉलेज में हैं तो निबंध का विषय आपके लिए बहुत महत्वपूर्ण है और यह निबंध एक ऐसा विषय है जो आपको बहुत अधिक अंक देता है। इसीलिए हर स्कूल के साथ-साथ कॉलेजों में भी निबंध प्रतियोगिताएं आयोजित की जाती हैं। दोस्तों आपको निबंध प्रतियोगिता में भाग लेने के लिए कहा जाता है इसीलिए हम आपके लिए एक बहुत ही सुंदर निबंध, Essay On My Favourite Bird Peacock in Hindi लेकर आए हैं।

Essay On My Favourite Bird Peacock in Hindi

हम इस निबंध में क्या सीखने जा रहे हैं

मोर की हकीकत

मोर का इतिहास

मोर के प्रकार

मोर का महत्व

10 Sentences of Peacock in Hindi 

10 Lines on Peacock in Hindi

क्या है मोर संरक्षण अधिनियम

आकर्षक रंगों के सुंदर पक्षी मोर को भारत के राष्ट्रीय पक्षी के रूप में भी मान्यता प्राप्त है। मोर मौसम के दौरान अपने पंख फैलाता है, अगर आप जंगल में जाते हैं, तो भी आपको मोर पंख मिल सकते हैं। मोर का पंख आमतौर पर मई से जून के अंत तक एक लंबा पंख होता है।

 मोर भारत का राष्ट्रीय पक्षी है और भारत की संस्कृति का भी एक हिस्सा है। भारत के साथ-साथ मोर हमारे पड़ोसी देश म्यांमार, पूर्व में बर्मा का राष्ट्रीय पशु भी है। मोर एक बहुत ही सुंदर पक्षी है भारत में कहा जाता है कि मोर की आवाज बहुत ही सुंदर होती है।

 कि जब मोर नाचने लगे तो हमेशा बारिश होने लगती है। मोर को एक सर्वाहारी जानवर भी कहा जाता है।मोर एक ऐसा पक्षी है जो सांप, छिपकली और कीड़ों को खाता है।

Essay On My Favourite Bird Peacock in Hindi


मोर की हकीकत

मोर पर्णपाती जंगलों के साथ-साथ जंगलों में भी रहता है। साथ ही रात के समय मोर हमेशा पेड़ पर आश्रय के लिए रहता है।

मोर का इतिहास

मोर पार्टी का उल्लेख हमेशा प्राचीन काल में और साथ ही किताबों में मिलता रहा है। उदाहरण के लिए, हम सम्राट अशोक द्वारा सिक्कों पर उकेरा गया एक मोर पाते हैं। साथ ही मुगल बादशाह शाहजहां के सिंहासन को मयूर सिंहासन कहा जाता था।

 यह एक बहुत ही महंगा सिंहासन था और कीमती रत्नों से सुशोभित था। साथ ही यह सिंहासन पूरी तरह से सोने का बना था। तो दोस्तों आपने अंदाजा लगा लिया होगा कि प्राचीन काल में भी मोर पार्टी को कितना महत्व दिया जाता था और आज भी है।

मोर के प्रकार

दोस्तों, मोर मुख्य रूप से चार प्रकार के होते हैं, हरे मोर, रंगोली मोर, भारतीय मोर और बर्मी मोर भारतीय और बर्मी मोर में बहुत अंतर होता है। एक भारतीय मोर का सिर हमेशा अर्धचंद्र के आकार का होता है। लेकिन बर्मी मोर का गायन मौखिक होता है

Essay On My Favourite Bird Peacock in Hindi

मोर का महत्व

दोस्तों मोर पंख बहुत खूबसूरत होते हैं मोर पंख हमेशा सजावट और फैंसी वस्तुओं के लिए उपयोग किए जाते हैं। प्राचीन भारतीय और श्रीलंकाई चिकित्सा साहित्य का उपयोग मोर पंख के उपचार की गुणवत्ता के संदर्भ में किया जाता है।

दुनिया में बहुत से लोग मोर को एक बहुत ही खूबसूरत पक्षी मानते हैं, लेकिन दोस्तों भारत में मोर जैसा कोई दूसरा पक्षी इस तरह पेश नहीं किया जाता है। हमारे भारतीय देशों में मोर को सुंदरता और शिष्टाचार का प्रतीक माना जाता है।

भारतीय संस्कृति में मोरों का महत्व प्राचीन काल से ही बहुत बड़े पैमाने पर रहा है। महान सम्राट ने इसे हमेशा मोर पंख के मुकुट और सिंहासन पर रखा था। राजा के बारे में लिखने के लिए कई कवियों द्वारा मोर के पंखों का भी व्यापक रूप से उपयोग किया गया है। मोर हिंदू धर्म में विशेष रूप से लोकप्रिय है और भगवान कृष्ण भी मोर पंख पहनते हैं।

10 Sentences of Peacock in Hindi 

1) मेरा पसंदीदा पक्षी मोर है।

2) मोर मेरे जीवन का सबसे सुंदर पक्षी है।

3) धातु नीली और हमेशा हरी होती है।

4) मोर के सिर पर मुकुट होता है।

5) वें मोर हमेशा अपने सुंदर और  रंगों के लिए प्रसिद्ध हैं।

6) वर्षा में मोरों को नाचता देख हम बहुत प्रसन्न हुए।

7) मोर की एक महत्वपूर्ण विशेषता यह है कि उनकी एक सुंदर लंबी पूंछ होती है।

8) मोर हमेशा सुंदरता का प्रतीक होता है।

9) मोर हमेशा रंगीन पक्षी होते हैं।

10) मोर भारत का राष्ट्रीय पक्षी है।

10 Lines on Peacock in Hindi

  • मोर एक पक्षी है जो खेत में कीड़ों को खाता है जो हमेशा फसलों को अच्छे परिणाम देता है।
  • मोर हमेशा एक बहुत ही चतुर पक्षी होता है।
  • मोर जब खुश होता है तो पंख फैलाकर नाचता है मोर को पक्षियों का राजा भी कहा जाता है।
  • भगवान कृष्ण के सिर पर हमेशा मोर पंख होते हैं।
  • मोर के पंखे में कुछ खास पदार्थ होते हैं।
  • मोर हर साल अपने पंख बदलता है।
  • मोर के पुराने पंख हमेशा झड़ते हैं और कुछ समय बाद नए पंख लग जाते हैं।


क्या है मोर संरक्षण अधिनियम

भारत सरकार ने मोर की रक्षा के लिए 1972 में मोर संरक्षण अधिनियम अधिनियमित किया, यह देखते हुए कि हमारे देश में अवैध शिकार के कारण मोर की कुछ प्रजातियां विलुप्त हो गई हैं।

मोर की रक्षा के लिए और मोर प्रजातियों की वृद्धि के लिए, यह कानून मोर की सुरक्षा के लिए एक अच्छा कानून है। भारत सरकार द्वारा  मोर संरक्षण अभियान लागू किए जाने के बाद से भारत में मोरों की संख्या में काफी सुधार हुआ है।


निष्कर्ष

दोस्तों, हम आशा करते हैं कि आपको इस लेख में Essay On My Favourite Bird Peacock in Hindi में दी गई जानकारी अच्छी लगी होगी।

 दोस्तों, मोर पर निबंध के बारे में  दी गई जानकारी आपके निबंध प्रतियोगिता में निश्चित रूप से आपके काम आएगी। दोस्तों आपको दी गई जानकारी कैसी लगी हमें कमेंट करके जरूर बताएं दोस्तों हम आपके लिए हमेशा नई जानकारी लाते रहते हैं।

इसे भी जरूर पढ़ें

Post a Comment

Previous Post Next Post